Jinke Liye Lyrics जिनके लिए - Neka Kakkar | Jaani Ve | B Praak | Lyrics4yu

(जिनके लिए)Jinke Liye Lyrics in English

Jinke Liye Lyrics जिनके लिए - Neka Kakkar | Jaani Ve | B Praak | Lyrics4yu
“Jinke Liye Lyrics” song from new album(Jaani Ve), sung by Neha Kakkar featuring Jaani. Lyrics of the song are written and composed by Jaani, music for this song is composed by B Praak and labelled by T Series.

Jinke Liye Lyrics

Tere Liye meri ibadatein vhi hain
Tere Liye meri ibadatein vhi hain
Tu Sharam kar teri aadate vhi hain..
teri aadate vhi hain..

Jinke liye hum rote hain
hoo..
Jinke liye hum rote hain
Vo kisi aur ki baahon mein sote hain
Jinke liye hum rote hain
Vo kisi aur ki baahon mein sote hain
Hum galiyon mein bhatak-te firte hain
Vo samander kinaro pe hote hain

Jinke liye hum rote hain
Vo kisi aur ki baahon mein sote hain
Paagal ho jaoge aana kabhi na galiyon mein unki jaana kabhi na
jaana kabhi na..
Hum jinda gaye karib unke
Ab dekho mare hue laute hain
Jinke liye hum rote hain
Vo kisi aur ki baahon mein sote hain

Haton se khelte honge ya pairon se
Fursat kaha ab unko he gairon se
Haton se khelte honge ya pairon se
Fursat kaha ab unko he gairon se
Unke mohabbtein har jagah
Vo jo kehte the hum ik-laute hain
Jinke liye hum rote hain
Vo kisi aur ki baahon mein sote hain

Kabhi yahan baat krte ho
Kabhi wahan baat krte ho
Aap bade log ho sahab humse kaha baat krte ho

Aaj jis shakhs ka naam ho bata ayenge
Jaani tha jaani mile jis kayar se
Galti thi choti mohabbat kari jo
Vo galti badi thi ke kar baite shayar se
Aag ka dariya zafa unki
Har din lagane gotein he
Jinke liye hum rote hain
Kisi aur ki baahon mein sote hain
Jinke liye hum rote hain
Kisi aur ki baahon mein sote hain

aa….
ho
Jinke liye hum rote hain
Kisi aur ki baahon mein sote hain
Jinke liye hum rote hain
Kisi aur ki baahon mein sote hain


जिनके लिए Lyrics

तेरे लिए मेरी इबादतें वाही हैं
तेरे लिए मेरी इबादतें वाही हैं
तू शर्म कर तेरी आदते वाही हैं
तेरी आदते वाही हैं

जिनके लिए हम रोते हैं
हो
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
हम गलियों में भटकते फिरते हैं
वो समंदर किनारों पर होते हैं

जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं
पागल हो जाओगे आना कभी ना गलियों में उनकी जाना कभी ना
जाना कभी ना
हम जिन्दा गए करीब उनके
अब देखो मरे हुए लौटे हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं

हाथों से खेलते होंगे या पैरों से
फुर्सत कहा अब उनको हे गैरों से
हाथों से खेलते होंगे या पैरों से
फुर्सत कहा अब उनको हे गैरों से
उनके मोहब्बतें हर जगह
वो जो कहते थे हम इक-लौते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
वो किसी और की बाहों में सोते हैं

कभी यहाँ बात करते हो
कभी वहां बात करते हो
आप बड़े लोग हो साहब हमसे कहा बात करते हो

आज जिस शख्स का नाम हो बाता आएंगे
जानी था जानी मिले जिस कायर से
गलती थी छोटी मोहब्बत करी जो
वो गलती बड़ी थी के कर बैठे शायर से
आग का दरिया जाफा उनकी
हर दिन लगने गोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं

आ आ
हो
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं
जिनके लिए हम रोते हैं
किसी और की बाहों में सोते हैं


Song Info

SongJinke Liye
SingerNeha Kakkar
MusicB Praak | T Series

credit:


 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Post